ज़रूर पढ़ें

शनिवार, 30 मार्च 2019

दिग्विजय सिंह 16 साल बाद अपने लिए वोट मांगेंगे !

अपनी उम्मीदवारी का ऐलान होने के बाद वो देर रात भोपाल पहुंचे, पहले उन्होंने दरगाह जाकर जीत की मन्नत मांगी. भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद दिग्विजय सिंह पहली बार भोपाल आए. देर रात सड़क के रास्ते भोपाल पहुंचे दिग्विजय सिंह ने मशहूर दरगाह पर मशहूर दरगाह पर मत्था टेका. दिग्विजय सिंह दूसरों के लिए अक्सर वोट मांगते रहे लेकिन 16 साल बाद अपने लिए वोट मांगेंगे.
उमाभारती ने कहा- दिग्विजय सिंह के भ्रष्टाचार साबित करने का मुझे मौका ही नहीं मिला
प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमाभारती शुक्रवार को भी एक के बाद दस ट्वीट कर भोपाल संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह पर जमकर बरसीं। गुरुवार को भी उमाभारती ने लगातार आठ ट्वीट कर दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा था। उमा ने कहा कि उनके मुख्यमंत्री रहते हुए दिग्विजय सरकार के भ्रष्टाचार की जांच बैठाई थी, लेकिन मुझे इसे साबित करने का मौका नहीं मिला। अब मैं भोपाल की हर गली में दिग्विजय के खिलाफ प्रचार करुंगी।



दिग्विजय सिंह बोले- मैंने कभी 'हिंदू आतंकवाद' नहीं कहा, सिर्फ 'संघी आतंकवाद' कहा
 समझौता एक्सप्रेस बम ब्लास्ट के आरोप से 20 मार्च को बरी हुए स्वामी असीमानंद और तीन अन्य का नाम लिए बगैर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को कहा कि अभियोजन और बचाव पक्ष एक साथ होने से जो लोग पकड़े गए, वह अब छूट रहे हैं। इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने दावा किया कि उन्होंने कभी 'हिंदू आतंकवाद' नहीं बल्कि सिर्फ 'संघी आतंकवाद' शब्द कहा था, जिस पर वह आज भी कायम हैं।


भोपाल से प्रत्याशी तय करने में भाजपा को आ रहा पसीना : मुख्यमंत्री कमलनाथ

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि भोपाल संसदीय क्षेत्र से प्रत्याशी तय करने में भाजपा नेताओं का पसीना आ रहा है। उन्हें अखबार में विज्ञापन निकाल उम्मीदवार के लिए आवेदन मंगाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस कम से कम 22 से ज्यादा सीटें जीतेगी। कमलनाथ ये बात शनिवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही।कई लोगो का ये भी मान न है की कमलनाथ जी ने दिग्विजय सिंह को निपटाने के लिए भोपाल से प्रत्याक्षी घोषित करवाया है ! देखना ये है की मध्य प्रदेश की जनता ने उन्हें माफ़ किया या नहीं !

लोकप्रिय पोस्ट