ज़रूर पढ़ें

चाय घोटाला लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
चाय घोटाला लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 13 अप्रैल 2018

RTI से खुलासा, चाय-पानी पर दिल्ली सरकार ने 3 साल में खर्च कर डाले एक करोड़

आजतक न्यूज़ की खबर माने तो . केजरीवाल सरकार ने पिछले 3 सालों में चाय पानी पर 1 करोड़ 3 लाख 4 हजार 162 रुपये खर्च कर डाले हैं !  पहले महाराष्ट्र सरकार पर चाय घोटाला सामने आया था और अब दिल्ली सर्कार पर सवाल उठ रहे  है !

सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत यह खुलासा हुआ है, यही नहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले 3 सालों में 56 हवाई दौरे किए जिनका खर्च 11.99 लाख रुपये आया.

आरटीआई एक्टिविस्ट हेमंत गोनिया के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री ने जनता की गाढ़ी कमाई का दुरुपयोग किया, जबकि सरकार बनने से पहले उन्होंने जनता से वादा किया था कि वे जनता के साथ मिलकर काम करेंगे, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. दिल्ली के मुख्यमंत्री जब 3 साल में 1 करोड़ रुपये से ज्यादा चाय पानी पर खर्च कर सकते हैं तो आने वाले 2 सालों में और कितना खर्च बढ़ सकता है, इसका सहज ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है.

आम आदमी पार्टी ने जनता से कई वादे करके दिल्ली की राजनीति में खुद को काबिज कर सत्ता तक पहुंची तीन साल के कार्यकाल मे कई बार अपने आप में ही विवाद से लागातार घिरे रहना ही आप की सरकार की खासियत रही हो मानो कभी कुछ तो कभी कुछ अपने ही विधायकों का नाराज होना, कभी अपने ही पार्टी के विधायकों के निशाने पर दिल्ली सरकार का रहना, अब सवाल यह उठता है कि चुनाव से पहले किए गए वादों को छोड़ कर जनता की कमाई से चाय पानी कहीं आने वाले चुनावों में जनता केजरीवाल सरकार को बाहर का रास्ता ना दिखा दे.

इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने पिछले महीने महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लगाया था कि मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) में रोजाना 18,500 कप चाय की खपत है. मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने सूचना का अधिकार (आरटीआई) का हवाला देते हुए कहा कि पिछले तीन साल में सीएमओ में चाय की खपत पर खर्च में भारी वृद्धि हुई है. आरटीआई से मिली जानकारी के अनुसार, 2017-18 में सीएमओ में 3,34,64,904 रुपये की चाय पी गई, जबकि 2015-16 में करीब 58 लाख रुपया इस पर खर्च किया गया था.

लोकप्रिय पोस्ट