ज़रूर पढ़ें

The Accidental Prime Minister लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
The Accidental Prime Minister लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 28 दिसंबर 2018

जानिए, कौन हैं 'The Accidental Prime Minister' किताब लिखने वाले संजय बारू



The Accidental Prime Minister संजय बारू की किताब है और इस किताब पर बनी फिल्‍म पर जमकर राजनीति हो रही है। फिल्‍म पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के राजनीतिक जीवन पर आधारित है। फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' 11 जनवरी को रिलीज होने जा रही है. इसे विजय रत्नाकर गुट्टे ने डायरेक्ट किया है। संजय बारू ने ये किताब पीएमओ की नौकरी छोड़ने के लगभग छह साल बाद 2014 में लिखने की योजना बनाई थी। आपको जानकर हैरानी होगी कि संजय बारू से पिता भी मनमोहन सिंह के साथ काम कर चुके हैं।

संजय बारू मई 2004 में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार नियुक्त हुए और वह इस पद पर अगस्त 2008 तक रहे थे। उन्‍होंने साल 2008 में कुछ निजी कारणों से पद से इस्‍तीफा दे दिया था। 2014 में उन्‍होंने 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' किताब प्रकाशित कर राजनीति में उथल-पुथल ला दी थी। तक कुछ लोग संजय बारू के इस्‍तीफे को इस किताब से जोड़कर भी देख रहे थे। हालांकि संजय बारू बताते हैं कि उनके इस्‍तीफे और किताब का कोई संबंध नहीं था। संजय बारू इकोनॉमिक टाइम्स और द टाइम्स ऑफ इंडिया के एसोसिएट एडिटर रहे। वह फाइनेंशियल एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड के चीफ एडिटर रहे हैं।
पेशेवर पत्रकार रहे हैं संजय बारू (Sanjay Baru)
2014 में द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर किताब प्रकाशित कर सियासी भूचाल लाने वाले संजय बारू फाइनेंशियल एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड के चीफ एडिटर रहे हैं. वह इकोनॉमिक टाइम्स और द टाइम्स ऑफ इंडिया के एसोसिएट एडिटर रहे. उनके पिता बीपीआर विठल मनमोहन सिंह के साथ काम कर चुके थे. जब मनमोहन सिंह देश के वित्त सचिव थे, तब संजय बारू के पिता बीपीआर विठल उनके फाइनेंस और प्लानिंग सेक्रेटरी थे. इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री( फिक्की) के महासचिव पद से अप्रैल 2018 में संजय बारू ने इस्तीफा दे दिया. इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रेटजिक स्टडीज के जियो इकॉनमिक्स एंड स्ट्रेटजी के डायरेक्टर भी रह चुके हैं.

लोकप्रिय पोस्ट