Vande Matram लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Vande Matram लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

पुलिस बैंड की धुन पर वंदेमातरम् : शिवराज चौहान के आगे झुकी कमलनाथ सरकार?

राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद एक जनवरी को वंदेमातरम् का गायन नहीं हुआ था। इसे लेकर विवाद शुरू हो गया था। रोक लगने 24 घंटे बाद ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इसे कांग्रेस का शर्मनाक कदम बताया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मध्यप्रदेश को तुष्टिकरण का केंद्र बना रही है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल से पूछा था कि क्या वंदेमातरम् पर रोक का फैसला आपका है? शिवराज ने CM कमलनाथ से पूछे था , ''किसे खुश करना चाहते हैं'' ?


बैन के बावजूद शिवराज जी ने कहा था की उनके सभी विधायक 7 जनवरी को सचिवालय में गाएंगे वंदे मातरम ! इसके बाद कमलनाथ ने बुधवार को कहा था कि वंदेमातरम अब बड़े पैमाने पर होगा। शाह के बयान पर उन्होंने कहा था- ‘आजादी की लड़ाई के दौरान वंदेमातरम् गीत का अर्थ था, भारत मां को ब्रिटिश हुकूमत की गुलामी से मुक्त कराना। उन्होंने कहा था कि आजादी के बाद भारत मां की वंदना का अर्थ है, किसानों की खुशियां, जो मैं कर्जमाफी और फसलों के दाम सुनिश्चित करके कर रहा हूं। सही अर्थों में मप्र की वंदना में लगा हूं। वंदेमातरम् कर रहा हूं।'