Yogi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Yogi लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सीएम बनने के बाद पहली बार BJP ऑफिस पहुंची योगी



मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार भाजपा मुख्यालय पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संगठन के लोगों से केंद्र और प्रदेश सरकार के 100 दिन के काम जनता के बीच पहुंचाने का आग्रह किया।

कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए योगी बोले-सत्ता में होने के कारण हमारी जिम्मेदारी बढ़ गई है। कार्यकर्ताओं की अपेक्षा ज्यादा है लेकिन उन्हें संयम से काम लेना होगा और संतोष भी करना होगा।

योगी कानून-व्यवस्था पर तो कुछ नहीं बोले, लेकिन कहा कि सरकार शिक्षा में बड़ा परिवर्तन करेगी। भारतीय मानदंडों से काटकर जो विषय शिक्षा में शामिल किए गए हैं, उन्हें हटाया जाएगा।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सौ दिनों में सरकार की कई उपलब्धियां हैं। केंद्र सरकार ने भी तीन वर्ष में काफी काम किये हैं। लेकिन प्रदेश में भाजपा की सरकार न होने के कारण केंद्र के जनहित के कामों का लाभ नीचे तक नहीं पहुंच पाया।

कभी आदित्यनाथ के विरोधी थे मनोज तिवारी, अब एमसीडी चुनाव प्रचार के लिए उनकी पसंद बने योगी

दिल्ली एमसीडी चुनाव में नामांकन का काम पूरा हो चुका है. चुनाव प्रचार शुरू होने के साथ ही सियासी पारा भी चढ़ने लगा है. दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने प्रचार के लिए स्टार प्रचारकों की सूची भी तैयार कर ली है. सूची में सीएम योगी आदित्यनाथ को ऊपर रखते हुए कई केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्रियों से तरजीह दी गई है.
बता दें, 2009 के लोकसभा चुनाव में मनोन तिवारी और योगी आदित्यनाथ एक दूसरे के खिलाफ गोरखपुर सीट से चुनाल लड़े थे. उस समय दोनों ने एक-दूसरे को परास्त करने के लिए हर तरह के शब्दों के हथकंडों को अपनाया था.
एमसीडी चुनावों में बीजेपी की प्रतिष्ठा को देखते हुए मनोज तिवारी ने 42 स्टार प्रचारकों की सूची तैयार की है. लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि सूची में कई केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों को नीचे रखते हुए सीएम आदित्यनाथ योगी को आठवें नंबर पर जगह दी गई है. वहीं सूत्रों की मानें तो एमसीडी चुनाव प्रचार के लिए योगी के नाम पर मौखिक रूप से भी खास आग्रह किया गया है.