सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

16 अक्तूबर से गुजरात दौरे पर पीएम मोदी, इसलिए चुनावी तारीखों का ऐलान नहीं: कांग्रेस



नई दिल्ली: कांग्रेस ने चुनाव आयोग की ओर से हिमाचल प्रदेश और गुजरात विधानसभा चुनावों के कार्यक्रम एक साथ घोषित नहीं करने पर सवाल उठाए और आरोप लगाया कि सरकार ने आयोग पर दबाव बनाया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि गुजरात चुनाव के कार्यक्रम घोषित करने में देरी इसलिए की गई ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 अक्तूबर को अपने गृह राज्य के दौरे के दौरान लोकलुभावन घोषणाएं कर Þफर्जी सांता क्लॉजÞ के तौर पर पेश आएं और ÞजुमलोंÞ का इस्तेमाल करें। पार्टी ने कहा कि यदि गुजरात चुनाव के कार्यक्रम अभी घोषित कर दिए गए होते तो राज्य में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई होती।

कांग्रेस के संचार प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्विटर अकाउंट पर डाले गए एक वीडियो संदेश में आरोप लगाया कि अब यह साफ है कि हिमाचल के साथ गुजरात चुनाव के कार्यक्रमों की घोषणा टालने के लिए मोदी सरकार और भाजपा चुनाव आयोग पर दबाव डाल रहे हैं ताकि उनके राजनीतिक हित पूरे हो सकें। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, कारण यह है कि प्रधानमंत्री एक फर्जी सांता क्लॉज के तौर पर 16 अक्तूबर को गुजरात जा रहे हैं ताकि ऐसी लोक लुभावन घोषणाएं कर सकें और ऐसे जुमलों का इस्तेमाल कर सकें जो उन्होंने 22 साल से लागू नहीं किए। कांग्रेस नेता ने कहा कि गुजरात चुनाव की तारीखें घोषित कर और तत्काल आदर्श आचार संहिता लागू कर सभी को समान अवसर मुहैया कराने की जिम्मेदारी अब चुनाव आयोग पर है। उन्होंने कहा कि सवाल यह है कि​ क्या चुनाव आयोग सरकार के ऐसे दबाव में घुटने टेक सकता है। क्या यह परंपरा सही है और चुनाव आयोग को इस बाबत लोगों को विस्तार से जवाब देना चाहिए।

सुरजेवाला ने दावा किया कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से भाजपा की पिछली 22 साल की नाकामियों की पोल खोल देने के बाद मोदी को हार का भान हो गया है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा को हार का डर सता रहा है और वह आखिरी समय में वोटरों को ललचाने की कोशिश में जुटी है। सुरजेवाला ने कहा कि हम मांग करते हैं कि गुजरात और हिमाचल में नवंबर में चुनाव कराए जाएं और आदर्श आचार संहिता तत्काल लागू की जाए। यह दोनों राज्यों के लोगों की मांग भी है और संवैधानिक दायित्व भी है। कांग्रेस नेता ने कहा कि आप चाहे जो भी करें, लोगों ने अपना मन बना लिया है और वे भाजपा को हराएंगे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Gujarat University Result: जारी हुआ एलएलबी का रिजल्ट, ऐसे करें चेक

नई दिल्ली:

गुजरात यूनिवर्सिटी (Gujarat University) ने एलएलबी के विभिन्न सेमेस्टर का रिजल्ट (Gujarat University Result) जारी कर दिया है. उम्मीदवारों का रिजल्ट गुजरात यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट gujaratuniversity.ac.in पर जारी किया गया है. उम्मीदवार इस वेबसाइट पर जाकर ही अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं. बता दें कि एलएलबी की परीक्षाएं पिछले साल आयोजित की गई थी. उम्मीदवार नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक से अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं.


आपको बता दें कि कई बार वेबसाइट क्रैश हुई है, ऐसे में हो सकता है कि ये लिंक न खुले. ऐसे में आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलों कर भी अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं.

Gujarat University LLB 2018 Result ऐसे करें चेक


स्टेप 1: उम्मीदवार अपना रिजल्ट चेक करने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट gujaratuniversity.ac.in या http://www.gujaratuniversity.org.in/result_e/result/result.html पर जाएं.
स्टेप 2: वेबसाइट पर दिए गए रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें.
स्टेप 3: अपना LLB का सेमेस्टर चुने.
स्टेप 4: अब रिजल्ट की पीडीएफ आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगी.
स्टेप 5: आप इस पीडीएफ को डाउनलोड कर सकते हैं.

RRB Group D result: खत्म होने वाली इंतजार की घड़ी, आने वाला है ग्रुप डी परिणाम

RRB Group D results 2018-19: रेलवे भर्ती बोर्ड अब किसी भी समय आरआरबी ग्रुप डी परिणाम घोषित कर सकता है। रिजल्ट की घोषणा क्षेत्रीय आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइट्स पर की जाएगी। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरआरबी ग्रुप डी रिजल्ट की घोषणा आज (16 फरवरी) या कल (17 फरवरी) में हो सकती है। यही नहीं अगले सप्ताह तक आरआरबी ग्रुप डी परीक्षा के अगले चरण पीईटी (शारीरिक दक्षता परीक्षा) के प्रवेश पत्र भी जारी हो सकते हैं।

इंडियन एक्सप्रेस डॉट कॉम पर प्रकाशित खबर के मुताबिक आआरबी के अधिकारी ने कहा है कि रेलवे भर्ती बोर्ड ग्रुप डी के नतीजे 16 फरवरी यानी आज जारी कर सकता है। नतीजे क्षेत्रीय रेलवे भर्ती बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट्स पर रात 11 बजे से उपलब्ध हो सकते हैं। यह भी कहा गया है कि अगले सप्ताह से पीईटी के एडमिट कार्ड जारी हो सकते हैं। रेलवे ग्रुप डी की सीबीटी परीक्षा 17 सितंबर से शुरू हुई थी और 17 दिसंबर तक चली। 63 हजार पदों पर भर्ती के लिये इस परीक्षा में 1.89 करोड़ उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया था। 1.89 करोड़ उम्मीदवारों को अब रिजल्ट का इंतजार है।




स्टेप 1- अपने आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। आ…

पुलवामा से ठीक पहले, उसी पैटर्न पर ईरान में भी हमला, 27 सैनिकों की मौत

जम्मू कश्मीर के पुलवामा हमले के ठीक कुछ घंटों पहले ईरान में भी आतंकियों ने रेवोलुशनरी गार्ड की बस पर आत्मघाती हमला किया था. इस हमले में ईरान के 27 जवानों की मौत हो गई. जबकि 13 घायल हैं. बताया जा रहा है कि ईरानी जवान सीमा पर गश्ती के बाद लौट रहे थे तभी हमला हुआ.

ईरान में यह आत्मघाती हमला खश-जाहेदान रोड पर हुआ. यह ठीक पुलवामा में सेना पर हमले के पैटर्न पर हुआ. रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स कर्मी सीमा पर गश्ती के बाद लौट रहे थे तब खश-जाहेदान रोड पर बस के साथ एक कार चलने लगी. जो विस्फोटकों से भरी हुई थी. तभी बस में कार आ घुसी और जोरदार धमाका हुआ. इस हमले में 27 सैनिक मारे गए और 13 घायल हो गए!

IRAN की समाचार एजेंसी IRNA के अनुसार, जैश अल-अदल या सेना के एक अलगाववादी समूह ने न्याय का दावा किया है।
यह घटना पाकिस्तान और अफगानिस्तान के साथ ईरान की अस्थिर सीमा के पास एक रेगिस्तानी सड़क पर हुई थी, जहां समूह को संचालित करने के लिए जाना जाता है। यह दो दिन बाद आता है जब ईरान ने इस्लामी क्रांति की 40 वीं वर्षगांठ को चिह्नित किया।
ट्रक को विस्फोटकों से भरा गया था जब उसमें "…