डाक डिलेवर होते ही आएगा एसएमएस, पोस्टमैन लेकर चलेंगे स्मार्ट फोन



भोपाल। अब डाक-पार्सल भेजने वाले को पता चल जाएगा कि उसका सामान कितने बजे डिलेवर हुआ। डाक विभाग ने सोमवार को 'पोस्टमैन मोबाइल एप" लांच किया। अब स्पीड पोस्ट, रजिस्टर्ड पत्र, पार्सल, ईएमओ एवं सीओडी आर्टिकल्स आदि डिलेवर होते ही एप पर दर्ज हो जाएंगे और सामान भेजने वाले के मोबाइल पर एसएमएस चला जाएगा। नई व्यवस्था सोमवार से लागू हो गई है। इसके लिए भोपाल में 213 पोस्टमैन को स्मार्ट फोन दिए गए हैं।

डाक विभाग के मुख्य पोस्ट मास्टर जनरल (सीपीएमजी) आलोक शर्मा ने बताया कि पोस्टमैन वितरित किए गए सामान का रियल टाइम स्टेटस एप के जरिए सेंट्रल सर्वर पर तुरंत ही अपलोड कर देगा। साथ ही प्राप्तकर्ता के डिजिटल हस्ताक्षर भी लेगा।

इसके बाद यह जानकारी तुरंत ही भेजने वाले ग्राहक तक पहुंच जाएगी। शर्मा ने बताया कि भोपाल के अलावा इंदौर, ग्वालियर, उज्जैन एवं जबलपुर में भी यह व्यवस्था एक साथ शुरू की गई है। पांचों शहरों में 800 पोस्टमैन को स्मार्ट फोन दिए गए हैं। 'मोबाइल एप" के पहले वास्तविक समय का पता नहीं चल पाता था। डाक-पार्सल यदि सुबह वितरित हुई है तो भी पोस्टमैन के ड्यूटी से लौटने के बाद देर शाम तक स्टेटस अपडेट हो पाता था।

केंद्रीय मंत्री के निर्देश थे

बताया जाता है कि केन्द्रीय संचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने तीन सप्ताह पहले मप्र प्रवास के दौरान अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए थे। उसके बाद से विभाग इस मुहिम में जुटा था। जल्दबाजी और गोपनीयता इतनी रखी गई कि नई सुविधा शुरू करने विभाग ने औपचारिक कार्यक्रम तक नहीं किया।