MP में महिलाओं का खौफ, शराब ठेकेदारों ने बचाव में रखे बाउंसर

 प्रदेशभर में रिहायशी इलाके में शराब दुकानों के खिलाफ जनता के सब्र टूटने लगा है।  नैशनल और स्टेट हाइवे से पांच सौ मीटर के दायरे में शराब की दुकानों के न होने से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद रिहाइशी इलाकों में शिफ्ट हो रही इन दुकानों के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है।

 इंदौर के पालदा क्षेत्र में एक हफ्ते से शराब दुकान हटाने के लिए प्रदर्शन कर रहे लोगों ने शुक्रवार को हाथों में चप्पल लेकर तेजाजी नगर चौक पर चक्काजाम कर दिया।इस दौरान   दुकानदार बाउंसर लेकर पहुँचा तो रहवासी और भड़क गए और पथराव चालू कर दिया


मध्यप्रदेश राज्य के रायसेन जिले  में भी सागर रोड स्थित पाटनदेव में नव निर्मित देशी शराब खुलने से पहले लोग पहुंच गए और जमकर विरोध जताया। लोगों का कहना था कि शराब दुकान खुलने में क्षेत्र का माहौल खराब होगा। विरोध को देखते नगर पालिका अध्यक्ष ने मोर्चा संभाला और ठेकेदार को दूसरी जगह पर दुकान खोलने की हिदायत दी दुकान खोली जा रही थी।