ज़रूर पढ़ें

NATIONAL लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
NATIONAL लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, 10 अप्रैल 2019

Jagan Prasad Garg: विधायक जगन प्रसाद गर्ग का निधन, हार्ट अटैक से हुई मौत

पांच बार विधायक रहे जगन प्रसाद गर्ग का निधन हो गया है। हार्ट अटैक के कारण उनका देहांत हुआ। इस बात की पुष्टि उनके भतीजे मनोज गर्ग ने की। बताया जा रहा है कि तबियत बिगड़ने पर उन्‍हें पुष्‍पांजलि हॉस्‍पीटल ले जाया गया था, जहां डॉक्‍टरों ने जवाब दे दिया। इसके बाद परिजन उन्‍हें रेनबो हॉस्‍पीटल लेकर गए। यहां भी डॉक्‍टर्स ने मना कर दिया।

रविवार, 24 मार्च 2019

Aleppi-Tata Express: ओडिशा में ट्रैकमैन की सूझबूझ से बची एलेप्पी-टाटा एक्सप्रेस

राउरकेला। चक्रधरपुर रेल मंडल स्थित बंडामुंडा के केबिन के पास रविवार की सुबह एलेप्पी से टाटा जा रही एलेप्पी-टाटा एक्सप्रेस को ट्रैकमैन ने दुर्घटनाग्रस्त होने से बचा लिया। राउरकेला से रवाना होने के बाद ट्रेन तेज गति से टाटा की ओर जा रही थी। तभी ट्रैकमैन को पटरी में दरार दिखी। उसके बाद वह लाल झंडी लेकर ट्रेन की दिशा में दौड़ा।

लाल झंडा देख तेज रफ्तार ट्रेन रूक गई और एक बड़ा हादसा टल गया। बताया जाता है कि राउरकेला पीडब्लूआइ के अधीन कार्यरत 44 वर्षीय ट्रैकमैन राम श्रेया दास रविवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे जब बंडामुंडा के केबिन के निकट ट्रैक की जांच कर रहे थे, तभी उन्हें पटरियों के बीच एक जगह दरार नजर आई। इसके पांच मिनट बाद 7.35 बजे उसी पटरी पर एलेप्पी- टाटा एक्सप्रेस 50 से 60 किलोमीटर की रफ्तार से आती नजर आई।

शुक्रवार, 8 फ़रवरी 2019

राहुल गांधी Live : कमलनाथ बोले- देश का नौजवान पीएम मोदी को पहचान चुका है

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को भोपाल पहुंच चुके हैं. वे दोपहर 2:15 बजे भोपाल के जंबूरी मैदान में किसान आभार सम्मेलन को संबोधित करेंगे. राहुल गांधी के साथ कांग्रेस के महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उनके साथ मंच पर मौजूद रहेंगे. राहुल गांधी दोपहर करीब सवा एक बजे एयरपोर्ट पहुंचे. वहां उन्होंने एयरपोर्ट पर करीब एक घंटे कांग्रेस नेताओं के साथ चुनावी रणनीति पर चर्चा की. चर्चा के दौरान बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ, प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित कई नेता मौजूद रहे. इसके बाद हेलिकॉप्टर से वे सीधे जंबूरी मैदान पहुंचे.

गुरुवार, 7 फ़रवरी 2019

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा में महागठबंधन को बताया महामिलावट, कहा-जनता इससे दूर रहेगी



राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महागठबंधन को महामिलावट बताते हुए कहा कि केरल से लेकर बंगाल तक महामिलावट चल रही है। इससे जनता दूर रहेगी। कोलकाता में एक मंच पर रहने वाले केरल में आंख नहीं मिलाते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश को मालूम है कि मिलावट वाली सरकार क्या होती है और अब तो महा-मिलावट आने वाली है। स्वस्थ लोकतंत्र के लिए लोग महामिलावट से दूर रहेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने साफ कहा कि कांग्रेस के अधूरे कार्य मेरी सरकार को पूरे करने पड़े हैं। कांग्रेस के 55 साल सत्ता भोग के साल रहे हैं और हमारी सरकार के 55 महीने सेवा भाव के साल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 55 वर्षों में देश में स्वच्छता कवरेज केवल 38% था, हमारे 55 महीनों में बढ़कर 98% हो गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले साढ़े चाल साल में भारत दुनिया की 10वीं से छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई। हमने बैंक खाते भी खुलवाए। अगर सचमुच में जिस गति से 55 महीने में सरकार चली है। देश की आजादी के बाद अगर आप चाहते तो 20 साल में पूरा कर सकते थे। आपका 2004 का मेनिफेस्टो देख लीजिए, 2009 का मेनिफेस्टो देख लीजिए, 2014 का मेनिफेस्टो देख लीजिए। आपने हर बार तीन साल के भीतर बिजली पहुंचाने के लिए कहा था।

बुधवार, 6 फ़रवरी 2019

अंगूरी भाभी शिल्पा शिंदे राजनीति मैदान में उतरते हो गई ट्रोल, फैंस बोले- 'गलत पकड़े हैं', देखें वायरल मीम्स



बिग बॉस 11 की विनर और 'भाबी जी घर पर हैं’ सीरियल से घर-घर में मशहूर हुईं एक्ट्रेस शिल्पा शिंदे की जब से राजनीति के मैदान में उतर की खबर सामने आई है। तब से सोशल मीडिया पर फैंस शिल्पा शिंदे को ट्रोल करने लगे हैं। आपको बता दें कि कांग्रेस (Congress) पार्टी में शामिल होने के बाद शिल्पा काफी खुश नजर आईं। शिल्पा की इस खुशी को देखकर उनके कुछ फैंस काफी खुश हुए, लेकिन कुछ फैंस को उनके इस कदम के गलत करार देते हुए उन्होंने ट्रोल करते हुए लिखा कि इस बार गलत पकड़े हैं।

आपको बता दें कि शिल्पा के राजनीति में शामिल की खबर के बाद यूजर्स शिल्पा के कई मीम्स बनाकर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं। साथ ही साथ शिल्पा के इस फैसले पर यूजर्स ने कई तरह के जोक्स भी बनाए गए हैं जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

आपको बता दें कि शिल्पा शिंदे उर्फ अंगुरी भाभी मंगलवार को कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गई। मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम और चरण सिंह सपरा ने उनका पार्टी में स्वागत किया। जिसकी एक फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई है। इस अवसर पर शिल्पा ने बताया कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को भारत के प्रधानमंत्री (Prime Minister) के रूप में देखना चाहती हैं। शिल्पा ने यह भी कहा कि वह कभी भी जात पात की राजनीति नहीं करेंगी। साथ ही उन्होंने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के कांग्रेस में शामिल होने का भी स्वागत किया।

शनिवार, 2 फ़रवरी 2019

NDA registration 2019: आवेदन की लास्ट डेट करीब, जल्द करें



परीक्षा का आयोजन यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (यूपीएससी) द्वारा किया जाएगा। एनडीए और एनए प्रवेश परीक्षा का आयोजन एनडीए के थलसेना, नौसेना और वायुसेना विंग में दाखिले के लिए होता है।NDA registration 2019: नैशनल डिफेंस अकैडमी (एनडीए) और नेवल अकैडमी (एनए) एग्जाम के लिए पंजीकरण की अंतिम तारीख 4 फरवरी, 2019 है। परीक्षा 21 अप्रैल, 2019 को होगी। परीक्षा का आयोजन यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (यूपीएससी) द्वारा किया जाएगा। एनडीए और एनए प्रवेश परीक्षा का आयोजन एनडीए के थलसेना, नौसेना और वायुसेना विंग में दाखिले के लिए होता है। इन परीक्षाओं के आधार पर कुल 392 वेकंसी को भरा जाएगा। 208 वेकंसी थलसेना विंग में और 92 वायुसेना विंग में दाखिले के लिए हैं।


एनडीए रजिस्ट्रेशन: जानें कैसे करें आवेदन
कैंडिडेट्स को यूपीएससी की वेबसाइट upsconline.nic.in पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। एनडीए के आवेदन को ऑनलाइन भरने के संक्षिप्त निर्देश यूपीएससी द्वारा जारी आधिकारिक अधिसूचना में दिए गए हैं। जो कैंडिडेट परीक्षा नहीं देना चाहते हैं, उनके लिए आयोग ने आवेदन वापसी का विकल्प दिया है।

एनडीए/एनए आवेदन को ऑनलाइन 4 फरवरी, 2019 को शाम के 6.00 बजे तक भरा जा सकता है।
ऑनलाइन आवेदन को वापस लेने की तारीख 8 से 14 फरवरी, 2019 को शाम 6.00 बजे तक है।

ऐडमिट कार्ड यूपीएससी की वेबसाइट upsconline.nic.in पर उपलब्ध होंगे जिसे डाउनलोड करना होगा। एनडीए की अधिसूचना में कहा गया है, 'डाक से कोई ऐडमिट कार्ड नहीं भेजा जाएगा।'

इन एग्जाम के 12वीं पास छात्र आवेदन कर सकते हैं। वे छात्र भी आवेदन कर सकते हैं जो 12वीं क्लास की परीक्षा दे रहे हैं।

बुधवार, 23 जनवरी 2019

Indian Railways : ट्रेन में विंडो सीट बुक करने पर अब देना होंगे अधिक पैसे



न में बैठते ही हर शख्स की कोशिश रहती है कि उसे विंडो सीट मिल जाए लेकिन हर बार ऐसा संभव नहीं हो पाता। ट्रेन में विंडो सीट पाने के लिए पहले आओ और पहले पाओ की स्थिति रहती है और इसके लिए कई बार विवाद भी होते हैं। लेकिन अब अगर आपको ट्रेन में यह विंडो सीट चाहिए तो उसके लिए अलग से पैसा चुकाना होगा।

जी हां, रेलवे में अब विंडो सीट बुक कराने पर आपको अधिक पैसे खर्च करना होंगे। फिलहाल विंडो सीट के लिए अतिरिक्त पैसा नहीं लिया जाता है। रेलवे फ्लेक्सी फेयर में बदलाव पर भी विचार कर रहा है ताकि ज्यादा लोग मूल किराए पर यात्रा कर सकें। इसके अलावा, साइड बर्थ किराए में भी कटौती की संभावना है।

‘ऑन और ऑफ सीजन’ का फॉर्मूला लागू करने पर भी विचार किया जा रहा है। इसके अमल में आने पर त्‍योहारों के मौसम में यात्रियों को सामान्‍य से ज्‍यादा पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं। वहीं, ऑफ सीजन में रेलवे किराये को कम रख सकता है।

गुरुवार, 3 जनवरी 2019

पुलिस बैंड की धुन पर वंदेमातरम् : शिवराज चौहान के आगे झुकी कमलनाथ सरकार?

राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद एक जनवरी को वंदेमातरम् का गायन नहीं हुआ था। इसे लेकर विवाद शुरू हो गया था। रोक लगने 24 घंटे बाद ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इसे कांग्रेस का शर्मनाक कदम बताया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मध्यप्रदेश को तुष्टिकरण का केंद्र बना रही है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल से पूछा था कि क्या वंदेमातरम् पर रोक का फैसला आपका है? शिवराज ने CM कमलनाथ से पूछे था , ''किसे खुश करना चाहते हैं'' ?


बैन के बावजूद शिवराज जी ने कहा था की उनके सभी विधायक 7 जनवरी को सचिवालय में गाएंगे वंदे मातरम ! इसके बाद कमलनाथ ने बुधवार को कहा था कि वंदेमातरम अब बड़े पैमाने पर होगा। शाह के बयान पर उन्होंने कहा था- ‘आजादी की लड़ाई के दौरान वंदेमातरम् गीत का अर्थ था, भारत मां को ब्रिटिश हुकूमत की गुलामी से मुक्त कराना। उन्होंने कहा था कि आजादी के बाद भारत मां की वंदना का अर्थ है, किसानों की खुशियां, जो मैं कर्जमाफी और फसलों के दाम सुनिश्चित करके कर रहा हूं। सही अर्थों में मप्र की वंदना में लगा हूं। वंदेमातरम् कर रहा हूं।'

शुक्रवार, 28 दिसंबर 2018

जानिए, कौन हैं 'The Accidental Prime Minister' किताब लिखने वाले संजय बारू



The Accidental Prime Minister संजय बारू की किताब है और इस किताब पर बनी फिल्‍म पर जमकर राजनीति हो रही है। फिल्‍म पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के राजनीतिक जीवन पर आधारित है। फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' 11 जनवरी को रिलीज होने जा रही है. इसे विजय रत्नाकर गुट्टे ने डायरेक्ट किया है। संजय बारू ने ये किताब पीएमओ की नौकरी छोड़ने के लगभग छह साल बाद 2014 में लिखने की योजना बनाई थी। आपको जानकर हैरानी होगी कि संजय बारू से पिता भी मनमोहन सिंह के साथ काम कर चुके हैं।

संजय बारू मई 2004 में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार नियुक्त हुए और वह इस पद पर अगस्त 2008 तक रहे थे। उन्‍होंने साल 2008 में कुछ निजी कारणों से पद से इस्‍तीफा दे दिया था। 2014 में उन्‍होंने 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' किताब प्रकाशित कर राजनीति में उथल-पुथल ला दी थी। तक कुछ लोग संजय बारू के इस्‍तीफे को इस किताब से जोड़कर भी देख रहे थे। हालांकि संजय बारू बताते हैं कि उनके इस्‍तीफे और किताब का कोई संबंध नहीं था। संजय बारू इकोनॉमिक टाइम्स और द टाइम्स ऑफ इंडिया के एसोसिएट एडिटर रहे। वह फाइनेंशियल एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड के चीफ एडिटर रहे हैं।
पेशेवर पत्रकार रहे हैं संजय बारू (Sanjay Baru)
2014 में द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर किताब प्रकाशित कर सियासी भूचाल लाने वाले संजय बारू फाइनेंशियल एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड के चीफ एडिटर रहे हैं. वह इकोनॉमिक टाइम्स और द टाइम्स ऑफ इंडिया के एसोसिएट एडिटर रहे. उनके पिता बीपीआर विठल मनमोहन सिंह के साथ काम कर चुके थे. जब मनमोहन सिंह देश के वित्त सचिव थे, तब संजय बारू के पिता बीपीआर विठल उनके फाइनेंस और प्लानिंग सेक्रेटरी थे. इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री( फिक्की) के महासचिव पद से अप्रैल 2018 में संजय बारू ने इस्तीफा दे दिया. इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रेटजिक स्टडीज के जियो इकॉनमिक्स एंड स्ट्रेटजी के डायरेक्टर भी रह चुके हैं.

मंगलवार, 25 दिसंबर 2018

क्या भारत के नेता धर्म की राजनीति करके आवाम को विकास के मुद्दों से भटका रही है ?

देश भर के कई राज्यों में इन दिनों चुनावी खुशबू की बयार बह रही है। जिसके चलते बयानबाजियों का मौसम काफी गरम बना हुआ है। राजनैतिक गलियारों में आरोप- प्रत्यारोप का दौर चालू है। देश की दोनों ही बड़ी पार्टियों के दिग्गज नेताओं की जुवानों से तीखे बोल निकल रहे हैं। ऐसा पहली बार नहीं है चुनावी माहौल बनते ही कई तरह के बयान शुरु हो जाते हैं। जनता इन पर खूब मनोरंजन भी करती है और तालियां भी बजाती है , मगर इस बार धर्म के मुद्दे विकास के मुद्दों को भटकाते नज़र आये ! कही राज्यों के नाम बदले जा रहे है , कही पर गाय के नाम पे लोगो की हत्या , कही पर नमाज़ पड़ने को लेकर विवाद, शबरीमला में लड़कियों के दर्शन को लेकर विवाद और इन सबसे आगे राम मंदिर पर निर्णय ! मगर क्या कोई न्यूज़ चैनल किसान के मुद्दों को उठाने को तैयार है ? क्या देश की जनता को भटकाने के लिए मीडिया का सहर लिया जा रहा है ? ये सब सोचने वाली बात है !

देश के उच्च स्तरीय नेताओं के बयान सुनकर पता लगाया जा सकता है कि चुनावी मेले में राजनेता किस कदर भाषा की मर्यादा खो बैठते हैं। कही हनुमान जी को कोई दलित बोलता है तो कोई जाट , ईश्वर को भी जाती विशेष से जोड़ने की तैयारी हो रही है ! भारतीय जनता पार्टी के विधायक सुरेन्द्र सिंह ने फिल्म अभिनेता नसीरूददीन शाह के भारतीय होने पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि शाह को पाकिस्तान चले जाना चाहिए. अपने बयानों के कारण अकसर विवादों के घेरे में रहने वाले सिंह ने कहा, 'शाह पाकिस्तान चले जाएं. 

बता दें, मशहूर अभिनेता नसीरूद्दीन शाह ने पिछले दिनों एक बयान में कहा था कि देश के हालात बहुत बुरे हैं और उन्हें इस पर गुस्सा आता है. उन्होंने कहा था कि हाल में उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा में साफ़ देखा गया कि आज देश में गाय की जान की कीमत एक पुलिस अफसर की जान से ज्यादा है. समाज में चारों तरफ जहर फैल चुका है और अब इसे से रोक पाना मुश्किल है. शाह के बयान को लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की जा रही है. इसके साथ ही शाह ने कहा था कि उन्हें अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर फिक्र होती है.!

आज प्रश्न उठता है कि देश में चुनावों के लिए प्रचार किए जा रहे हैं या अपनी जाति और गोत्र बताने की होड़ लगी हुई है। कोई भी नेता अपनी राजनेतिक सहूलियत के हिसाब से खुद को धर्म और जाति के आधार पर बांटने के लिए जोर देते रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी पर शुरु से ही हिंदुत्व की पार्टी होने का आरोप लगाया जाता रहा है। हालांकि चुनाव में हारने के बाद शायद कांग्रेस भी इसी अलाप पर निकल पड़ी है।



INDvAUS: @mayankcricket ‏टेस्ट डेब्यू में भारत के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार से शुरू बॉक्सिंग-डे टेस्ट में दो नए ओपनर्स को मौका दिया। मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज हनुमा विहारी को सलामी बल्लेबाज की जिम्मेदारी सौंपी गई और उनका साथ डेब्यू करने वाले मयंक अगरवाल ने निभाया। हनुमा और मयंक ने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट करियर में पहली बार ओपनिंग की और इसी के साथ दोनों ने एक खास उपलब्धि अपने नाम की। ऑस्ट्रेलिया में एकसाथ पहली बार ओपनिंग करने वाली हनुमा-मयंक की जोड़ी पहली भारतीय जोड़ी बन गई है।

सोमवार, 17 दिसंबर 2018

मध्य प्रदेश के कमलनाथ और छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल ने किये किसानो के ऋण माफ़

पहले ही दिन सीएम कमलनाथ ने किसानों का कर्जा माफ करने के बाद दो और बड़े फैसले लिए. सरकार ने मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि को 28 हजार से बढ़ाकर 51 हजार कर दिया. इसके अलावा तीसरा बड़ा फैसला है, नए उद्योग लगाने पर या मध्यप्रदेश में निवेश करने पर उद्योगपतियों को सिर्फ तभी सब्सिडी मिलेगी जब उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार स्थानीय लोगों को दिया जाएगा.

उधर छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की पहली कैबिनेट मीटिंग के तीन बड़े फैसले -

1. 16 लाख 65 हजार से अधिक किसानों का 6100 करोड़ रूपये का कर्जा माफ.
2. धान का समर्थन मूल्य 2500 रूपये प्रति क्विंटल किया गया.
3. झीरम हमले के शहीदों को न्याय दिलाने के लिए SIT का किया गठन.

इन हम फैसलों को देखकर लगता है की कांग्रेस चुनाव के बाद अपने वादों पर खरी उत्तरी और मोदी जी की गलतियों  से सीख ली !

गुरुवार, 13 दिसंबर 2018

कमलनाथ मध्य प्रदेश के नये मुख्यमंत्री


कांग्रेस ने गुरुवार को कमल नाथ को मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में घोषित किया


  • नाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में अपना पहला कार्यकाल पूरा करेंगे
  • उन्होंने छिंदवाड़ा से लोकसभा सांसद के रूप में नौ बार सेवा की है
  • 72 वर्षीय, नाथ 16 वीं लोक सभा में वरिष्ठ सदस्य हैं


मंगलवार को विधानसभा के परिणामों की घोषणा के बाद, कमल नाथ या ज्योतिरादित्य सिंधिया को नए मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया जाएगा या नहीं, इस पर अटकलें बढ़ती जा रही थी । कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को 114 सीटों से हरा दिया जबकि बीजेपी 109 सीटों पर विजयी हुई , कांग्रेस ने विधानसभा में 116 सीटों के निर्वाचित विधायकों से समर्थन और बहुमत दिखाते हुए सरकार बनाने का दावा किया है ।

गुरुवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के निवास ने एआईसीसी पर्यवेक्षकों द्वारा निरंतर दौरे के बाद और उनकी राय के बाद ये फैसला किया गया की कांग्रेस की मध्य प्रदेश की कमान अब कमल नाथ संभालेंगे ! ये भी रोचक बात है की कमल नाथ और शिवराज निजी ज़िन्दगी में अच्छे दोस्त भी है ! ऐसे में देखना ये है की कमल नाथ मध्य प्रदेश की सियासी डोर को कितनी मज़बूती से संभालेंगे ! उधर अकाली दाल ने कमल नाथ को सीएम बनाये जाने पर विरोध प्रकट किया है !

बुधवार, 12 दिसंबर 2018

नरेंद्र मोदी ने 24 घंटे से भी कम समय में दो बड़े झटके लिए

नरेंद्र मोदी ने 24 घंटे से भी कम समय में दो बड़े झटका लगा है  ।रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया गवर्नर के इस्तीफे और तीन राज्यों में चुनाव हारने के बाद अब मोदी जी को निवेशकों को चोट लगने के बारे में चिंता करना चाहिए, और अगले साल के आम चुनावों से पहले उन्हें ठीक करने के लिए वह क्या कर सकता है।

पहला दस्तक सोमवार की शाम को आया जब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर उर्जित पटेल ने अचानक इस्तीफा दे दिया। हालांकि उन्होंने व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया, लेकिन किसी को भी कोई संदेह नहीं है कि यह नई दिल्ली की निरंतर उत्पीड़न थी जिसने मौद्रिक प्रमुख के प्रारंभिक बाहर निकलने का नेतृत्व किया।

मोदी को अब क्या चाहिए  की मंदिर मस्जिद का विवाद ख़तम कर , नामकरण की राजनीती को ख़तम कर ,  लोगो को मूलभूत सुविधा देने पर ध्यान दे ! जब मायवती ने करोडो रूपए का पार्क बनवाया और वह अपने चिन्ह हाथी और आदर्श काशीराम की मूर्ति बनवायी थी तब कई नेताओ ने उनकी निंदा करी  थी , आज जब सरदार पटेल की मूर्ति पर मोदी जी ने करोड़ो  रूपए खर्च किये तो उनसे सवाल करने वाला कोई नहीं था ! क्या मोदी सर्कार की यही प्राथमिकता थी ? जिस देश  में रोज़  एक आदमी भूक से मर रहा  हो उसे आप करोडो की मूर्ति  दिखा कर उसकी  गरीबी का मज़ाक उड़ा   रहे है ? इन तीन राज्यों के परिणाम से आपको समझ लेना चाहये  की आपने क्या गलतिया करी  है ! जनता  को #whatsapp और #twitter से बहुत लम्बे समय तक ब्रमित नहीं किया जा सकता !  

गुरुवार, 25 अक्तूबर 2018

पाँचवीं पास सूरत के हीरा व्यापारी सावजी ढोलकिया बोनस में देते हैं कार और फ्लैट

इस वर्ष कंपनी के कर्मचारियों को रेनॉ क्विड और मरुति सुजुकी सेलेरियो कारें मिलेंगी. दोनों ही कारों की ऑन रोड कीमत क्रमश: 4.4 लाख और 5.38 लाख रुपये है, ढोलकिया ने अपने फेसबुक पेज पर ये जानकारी दी.

आठ हज़ार करोड़ रुपए से अधिक के हीरों का कारोबार संभालने वाले सावजी ढोलकिया अपने कर्मचारियों में काफ़ी लोकप्रिय हैं.

गुजरात के कारोबारी ढोलकिया हर दिवाली अपने कर्मचारियों को बोनस के रूप में कार, घर, गहने या अन्य क़ीमती सामान तोहफ़े के रूप में देते हैं.

सावजी ढोलकिया हरिकृष्णा एक्सपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के चेयरमैन हैं और इस साल भी वे दिवाली पर अपने 600 कर्मचारियों को कार बोनस में गिफ्ट कर रहे हैं.

इसके लिए गुरुवार को सूरत में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जहां नरेंद्र मोदी भी कार्यक्रम में शामिल हुए और उन्होंने कुछ कर्मचारियों को गाड़ियों की चाभी सौंपी.

ढोलकिया ने पहली बार अपने कर्मचारी को कार दिवाली बोनस के रूप में दी थी. तभी से ये सिलसिला हर साल चलता आ रहा है.



पिछले महीने ही ढोलकिया ने हरिकृष्णा एक्सपोर्ट कंपनी में काम करते हुए 25 साल पूरा करने वाले तीन कर्मचारियों को मर्सिडिज कार गिफ्ट की थी.

सोमवार, 22 अक्तूबर 2018

SBI: मिनिमम बैलेंस की झंझट नहीं, साथ में डेबिट कार्ड और इंटरनेट बैंकिंग, बच्चों के नाम खुलवाएं यह खास अकाउंट

भारत के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने देश की अगली पीढ़ी को अपने साथ जोड़ने के लिए 2 नए तरह के बचत खाते शुरु किए हैं। बता दें कि ये बचत खाते बच्चों के लिए हैं और किसी भी बच्चे के नाम पर इन खातों को खुलवाया जा सकेगा। ये बचत खाते हैं पहला कदम और पहली उड़ान। इन बैंक खातों को 18 साल से कम उम्र के बच्चों के नाम पर खुलवाया जा सकता है। पहला कदम बचत खाता 18 साल से कम किसी भी उम्र के बच्चे के नाम पर खुलवाया जा सकता है। वहीं पहली उड़ान नामक बचत खाता 10 साल से ऊपर के बच्चों के नाम पर खुलवाया जा सकता है। एसबीआई की अधिकारिक वेबसाइट- Bank.sbi.one पर जाकर इन खातों से संबंधित पूरी जानकारी देखी जा सकती है।

गुरुवार, 18 अक्तूबर 2018

#MeToo: पिता पर 'मी टू' के आरोपों पर नंदिता ने कहा, 'सच सामने आएगा'



#Metoo: पिता और पद्मभूषण से सम्मानित चित्रकार जतिन दास पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए जाने के बाद बॉलीवुड अभिनेत्री नंदिता दास ने कहा है कि वह 'मीटू' का समर्थन करती हैं और उन्होंने भरोसा दिलाया कि सच्चाई की जीत होगी। नंदिता ने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट में लिखा, मैं 'मीटू' की मजबूत समर्थक हूं और दोहराना चाहूंगी की पिता पर लगे आरोपों के बाद भी अपनी आवाज उठाऊंगी, जिसे उन्होंने स्पष्ट रूप से नकारा है।

उन्होंने लिखा, मैं शुरुआत से इस बात पर जोर दे रही हूं कि यह समय महिलाओं (और पुरुषों) को खुलकर बोलने और सुरक्षित महसूस करवाने का है, साथ ही आरोपों की सच्चाई भी महत्वपूर्ण है। मेरा अजनबियों और दोस्तों से स्पर्श हुआ है, जो चिंतित हैं और मेरी ईमानदारी पर भरोसा करते हैं।

संरक्षणवादी कार्यकर्ता निशा बोरा ने मंगलवार को जतिन दास पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। बोरा ने कहा कि जतिन ने अपने खिड़की गांव स्थित स्टूडियो में 2004 में उनका यौन उत्पीड़न किया था।

नन से रेप: आरोपी बिशप का जालंधर में भव्य स्वागत, बरसाए गए फूल


केरल में नन के साथ रेप के आरोप में जमानत मिलने के बाद बिशप फ्रैंको मुलक्कल बुधवार को पंजाब के जालंधर पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान उनके समर्थकों ने गुलाब के फूल उनपर बरसाए और उन्हें माला पहनाकर स्वागत किया। स्वागत करने वालों में उनके कई समर्थक और नन शामिल थीं।
बिशप ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'पंजाब के लोगों की प्रार्थना मेरे साथ थी। मैं उन सभी लोगों का धन्यवाद करना चाहता हूं। मुझे उम्मीद है कि ये लोग हमेशा मेरे लिए प्रार्थना करते रहेंगे। मामले में जांच जारी है और मैं सहयोग कर रहा हूं। मुझे देश के कानून में पूरा यकीन है।' इससे पहले बिशप फ्रैंको मुलक्कल को केरल के पाला के नजदीक एक जेल से मंगलवार को जमानत पर रिहा कर दिया गया। केरल हाई कोर्ट ने सोमवार को बिशप की जमानत मंजूर की थी। जेल के बाहर बड़ी संख्या में मुलक्कल के समर्थकों और निर्दलीय विधायक पीसी जॉर्ज ने उसका स्वागत किया।

मीटू: अकबर द्वारा मानहानि के केस की सुनवाई 31 तक टली

नई दिल्ली मीटू के आरोपों से घिरे पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर द्वारा पत्रकार प्रिया रमानी पर मानहानि का मुकदमें की सुनवाई गुरुवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में हुई। मामले की सुनवाई कर रहे जज समर विशाल ने कहा कि पहले मानहानि करने वाले ट्वीट/स्टेटमेंट को देखते हैं। यदि यह सामग्री मानहानि पहुंचाने वाली पाई गई तो इसे आगे ले जाया जाएगा। कोर्ट ने कहा कि 31 अक्टूबर को शिकायतकर्ता और गवाहों के बयान दर्ज किए जाएंगे।

अकबर की तरफ से पेश हुई वकील गीता लूथरा ने कहा, 'प्रिया रमानी ने शिकायतकर्ता की मानहानि करने वले ट्वीट किए हैं। उनका दूसरा ट्वीट साफ तौर पर मानहानि करने वाला है, जिसे 1200 लोगों ने लाइक किया।' लूथरा ने कहा कि उनके क्लाइंट दोषी नहीं थे, इसके बावजूद उन्होंने पद से हटने का फैसला लिया। उन्होंने कहा कि रमानी के आरोपों से मेरे क्लाइंट की 40 साल से कमाए गए सम्मान को ठेस पहुंची है। जज समर विशाल ने कहा कि 31 अक्टूबर को शिकायतकर्ता और गवाहों के बयान दर्ज किए जाएंगे। जज ने कहा, 'मैंने शिकायत और इससे जुड़े दस्तावेज देखे। मैं आईपीसी की धारा 500 के तहत अपराध की संज्ञान लेता हूं।' बता दें कि महिला पत्रकार प्रिया रमानी ने 7 अक्टूबर को 1 साल पहले एक पत्रिका में टॉप एडिटर के व्यवहार के बारे में लिखा था, बाद में साफ हुआ कि आरोप केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के बारे में थे। रमानी ने लिखा था कि अकबर ने कथित तौर पर उन्हें एक होटल के रूम में जॉब इंटरव्यू के लिए बुलाया, जो इंटरव्यू कम और डेट ज्यादा थी। उन्होंने लिखा कि अकबर ने उन्हें हिंदी गाने सुनाए और उनके करीब बैठने को कहा। कई अन्य महिलाओं ने अकबर पर उनके खराब व्यवहार के बारे में आरोप लगाए, जब वह मीडिया संस्थान में उनके बॉस थे। इनमें शुमा राय, शुतापा पॉल, रुथ डेविड, कनिका गहलौत शामिल थीं। अपने ऊपर लगातार लग रहे आरोपों की वजह से अकबर को बुधवार को केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री पद से इस्तीफा भी देना पड़ा। गौरतलब है कि एशियन ऐज में काम करने वाले पूर्व पत्रकार अक्षय मुकुल, रशीद किदवई, कमलेश सिंह समेत कुछ अन्य ने पीड़ितों के समर्थन में खड़े हुए। इसके अलावा अन्य कुछ शीर्ष पत्रकारों ने रमानी को अकबर के खिलाफ इस कानूनी मामले को लड़ने के लिए आर्थिक मदद करने का भी आश्वासन दिया।

शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2018

शिवराज सरकार ने प्रदेश के पुजारियों को बड़ा तोहफा दिया है

चुनाव से पहले हर वर्ग को खुश करने में जुटी शिवराज सरकार ने प्रदेश के पुजारियों को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने पुजारियों की मांग पूरी करते हुए उनका मानदेय तीन गुना बढ़ाकर 1500 रुपए महीना कर दिया है। इसके साथ ही मंदिरों की 10 एकड़ तक कृषि भूमि जोतने और इससे ज्यादा कृषि भूमि की नीलामी के अधिकार भी दे दिए हैं। उन्हें संबल योजना का लाभ भी दिया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महासंघ और ब्राह्मण समाज के प्रतिनिधिमंडल से चर्चा के बाद यह घोषणा की है, इस सम्बन्ध में आदेश भी किये जा रहे हैं।

विधानसभा चुनाव की आचार संहिता की संभावनाओं के बीच सोमवार को मंत्रालय में हुई कैबिनेट बैठक में रिकॉर्ड 80 मुद्दों पर विचार किया गया। इसमें बड़े वर्ग को साधते हुए सरकार ने मिड डे मील के 2.23 लाख रसोईयों और 90 हजार अतिथि विद्वानों के मानदेय में दोगुना वृद्धि को हरी झंडी दी।

वहीं, अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर की खेलकूद प्रतियोगिता में पदक जीतने वाले खिलाड़ी को सब इंस्पेक्टर और आरक्षक की नौकरी दी जाएगी। दतिया और भिंड नगर पालिका को नगर निगम बनाने की सैद्धांतिक सहमति कैबिनेट ने दी। छिंदवाड़ा में उद्यानिकी कॉलेज खोलने का निर्णय लिया गया तो वायु संपर्कता नीति 2018 को भी मंजूरी दी गई।

लोकप्रिय पोस्ट