मध्य प्रदेश के कमलनाथ और छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल ने किये किसानो के ऋण माफ़

कोई टिप्पणी नहीं

पहले ही दिन सीएम कमलनाथ ने किसानों का कर्जा माफ करने के बाद दो और बड़े फैसले लिए. सरकार ने मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि को 28 हजार से बढ़ाकर 51 हजार कर दिया. इसके अलावा तीसरा बड़ा फैसला है, नए उद्योग लगाने पर या मध्यप्रदेश में निवेश करने पर उद्योगपतियों को सिर्फ तभी सब्सिडी मिलेगी जब उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार स्थानीय लोगों को दिया जाएगा.

उधर छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की पहली कैबिनेट मीटिंग के तीन बड़े फैसले -

1. 16 लाख 65 हजार से अधिक किसानों का 6100 करोड़ रूपये का कर्जा माफ.
2. धान का समर्थन मूल्य 2500 रूपये प्रति क्विंटल किया गया.
3. झीरम हमले के शहीदों को न्याय दिलाने के लिए SIT का किया गठन.

इन हम फैसलों को देखकर लगता है की कांग्रेस चुनाव के बाद अपने वादों पर खरी उत्तरी और मोदी जी की गलतियों  से सीख ली !

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

Please share your suggestions and feedback at businesseditor@intelligentindia.in