ज़रूर पढ़ें

‪Indian Administrative Service‬ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
‪Indian Administrative Service‬ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 24 सितंबर 2017

राजीव महर्षि बने नए कैग, राष्ट्रपति ने दिलाई शपथ




पूर्व गृह सचिव राजीव महर्षि अब देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) बन गए हैं। आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। 62 वर्षीय महर्षि ने शशिकान्त शर्मा की जगह ली है। शर्मा ने 23 मई, 2013 को कैग का पद संभाला था। शपथ ग्रहण समारोह में उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

राजस्थान कैडर के 1978 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी महर्षि ने पिछले महीने गृह सचिव के रूप में 2 साल का तय कार्यकाल पूरा किया था। कैग के रूप में महर्षि का कार्यकाल तीन साल का होगा। कैग की नियुक्ति छह साल या 65 वर्ष की आयु पूरी होने तक की जाती है। संवैधानिक अधिकारी के तौर पर कैग के ऊपर केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के खातों के ऑडिट की जिम्मेदारी होती है। कैग की रिपोर्ट संसद और राज्य विधानसभाओं में पेश की जाती है।

लोकप्रिय पोस्ट