ज़रूर पढ़ें

IPPB लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
IPPB लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 1 सितंबर 2018

IPPB के उद्घाटन के बाद PM मोदी का कांग्रेस पर हमला, बोले- पहले नामदारों को फोन पर दिया जाता था अरबों का कर्ज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के उद्घाटन के बाद लोगों को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा कि आज से देश में डाकिया डाक लाया के साथ-साथ डाकिया बैंक लाया के रूप में जाना जायेगा. उन्होंने कहा कि देश के 650 जिलों और 3250 डाकघरों में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की सुविधा शुरू हो रही है. आज इस पहल से हम बैंक को गांव और गरीब के दरवाजे पर लेकर जाने का काम आरंभ कर रहे हैं. उन्होंने इसे एक क्रांतिकारी कदम बताते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में और सामाजिक व्यवस्था में बड़ा यह परिवर्तन लाने वाला है. 1 सितम्बर 2018 देश के इतिहास में एक नई और अभूतपूर्व व्यवस्था की शुरुआत होने के नाते याद किया जाएगा.उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से 2008 तक आज तक हमारे देश के सभी बैंकों ने 18 लाख की राशि ही लोन के तौर पर दी थी. और 6 साल में यह राशि बढ़कर 52 लाख करोड़ हो गई. यानी जितना लोन देश के बैंकों ने आजादी के बाद दिया था उसका दोगुना लोन पिछली सरकार ने 6 साल में दे दिया. हमारे देश में टेकनोलॉजी तो अब आई पहले फोन बैंकिंग का चलन था. अगर नामदार फोन कर दें तो लोन मिल ही जाता था. बैंक वाले अरबों-खरबों का कर्ज देते थे. सारे नियम कानून को ताक पर रखा जाता था नामदारों के लिए. कांग्रेस ने देश को बहुत नुकसान पहुंचाया है. उस समय नामदारों के आशीर्वाद से ही बैंकों में नियुक्ति होती थी.

लोकप्रिय पोस्ट