whatsapp लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
whatsapp लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

WhatsApp पर ऐसे करें कमाई! छोटे कारोबारी यहां से ले सकते हैं ट्रेनिंग

अभी तक आपको सिर्फ व्हाट्सऐप का एक ही रोल पता होगा. वो है किसी से बात करने का. अब व्हट्सऐप मेसेज के अलावा कॉल और विडियो कॉल की फैसिलिटी भी देता है. आपको जानकार थोड़ी हैरानी हो की व्हाट्सऐप अब आपको अपना बिज़नेस शुरू करने में भी मदद कर सकता है. WhatsApp ने हाल ही में छोटे कारोबारियों के लिए एक बड़ी पहल की घोषणा की है.WhatsApp का कहना कहा है कि वह कंफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (CII) के साथ मिलकर, छोटे कारोबारियों (SMEs) को ट्रेनिंग देगा, जिससे कोई भी बिज़नेसमें उस प्लेटफॉर्म का फायदा उठाकर अपनी कमाई बढ़ा सकें.व्हाट्सऐप और CII के बीच हुई पार्टनरशिप: WhatsApp और CII मिलकर छोटे कारोबारियों के लिए बिजनेस कम्युनिकेशन बढ़ाने का काम करेंगे. इसके लिए CII के एसएमई टेक्नोलॉजी फेसिलिटेशन सेंटर का इस्तेमाल कया जाएगा. यह सेंटर नवंबर 2016 में शुरू हुआ था.व्हाट्सऐप के हैं 30 लाख यूजर्स: दुनिया भर में लगभग 30 लाख WhatsApp बिजनेस ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं. जो लोग ट्रेनिंग में व्यक्तिगत तौर पर शामिल नहीं हो सकते, उनके लिए वेबिनार का आयोजन किया जाएगा और पूरा ट्रेनिंग मैटेरियल CII SME वेबसाइट पर भी उपलब्ध होगा.

MP पुलिस ने 50 से ज्यादा व्हाट्सएप ग्रुप एडमिन को भेजे नोटिस

मध्य प्रदेश में दलित आंदोलन और बंद के दौरान व्हाट्सएप ग्रुप पर आपत्तिजनक पोस्ट भेजने के कारण पुलिस ने 50 से ज्यादा ऐसे व्हाट्सप ग्रुप एडमिनों को नोटिस जारी किए हैं जोकि किसी न किसी रूप में विवादित पोस्ट कर माहौल खराब कर रहे थे.

दरअसल, एमपी में दलित आंदोलन और बंद के दौरान पुलिस ने कई इलाकों में धारा 144 लागू कर दिया था और कई जिलों में प्रशासन सोशल मीडिया पर भी नजर बनाए हुई थी. इसी क्रम में नीमच जिले से आंदोलन और बंद के दौरान व्हाट्सएप ग्रुपों के जरिए कई आपत्तिजनक मैसेज पोस्ट किए जाने की सूचनाएं प्रशासन को मिल रही थी.

ऐसे सभी आपत्तिजनक और शांतिभंग किए जाने वाली पोस्ट पर पुलिस नजर बनाए हुई थी. पुलिस ने पहले एक दलित की बारात को लेकर माहौल ख़राब करने वाले 20 लोगों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की और साथ ही कई व्हाट्सअप ग्रुप के एडमिनों को भी नोटिस जारी कर दिया.

बताया जा रहा है कि नोटिस जारी करने के बाद सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फैलाने और विवादित पोस्ट करने वालों में हड़कंप मच गया है. पुलिस ने फ़िलहाल 62 लोगों को नोटिस जारी किए हैं. नीमच के एएसपी जितेंद्र सिंह पवार ने बताया है कि हम सोशल मीडिया पर अपनी नजर बनाए हुए हैं.